Saturday, July 24, 2021
WhatsApp Image 2021-07-02 at 12.04.40 PM
IMG-20210702-WA0028
WhatsApp Image 2021-07-16 at 5.07.04 PM

जिले में कुल कोरोना टीकाकरण 4.5 लाख के पार टीकाकरण के दूसरे डोज़ की तरफ समुदाय का बढ़ रहा रुझान

संक्रमण से सुरक्षा  के लिए अभी भी कोरोना नियमों का करें पालन

आरा(बोलता भोजपुर) “जैसे जैसे  जिले में कोरोना टीकाकरण अभियान अपनी गति पकड़ रहा है,  उसी तरह संक्रमण के मामलों में भी राहत मिलती जा रही है। यह विभाग के अथक प्रयासों के साथ सामुदायिक सहभागिता का नतीजा है की जिला हर बीतते दिन के साथ सम्पूर्ण टीकाकरण लक्ष्य की प्राप्ति की ओर बढ़ रहा है। “ जिला प्रतिरक्षण पद्स्धिकारी डॉ. संजय कुमार सिन्हा की ये बातें एक तरफ जहां कोरोनामुक्ति की दिशा में जिले के बढ़ते कदम को इंगित करता है वहीं आम जन में टीका करण  के बढ़ते रुझान की तरफ इशारा भी है।
जिले में टीकाकरण की संख्या अब तक  4,56,823 :
डॉ. सिन्हा ने बताया कि  विगत जनवरी महीने से 17 जुलाई तक जिले में कुल 4, 56,823 लोगों का टीकाकरण हो चुका है। जिनमें से 3,90,228 लोग ऐसे हैं जिन्होंने  कोरोना टीका का पहला डोज़ लिया है और अपने दूसरे डोज़ लेने का इंतजार कर रहे हैं।  जबकि 66,595 लोग ऐसे हैं, जिन्होंने  बिना झिझके और किसी भी अंधविश्वास को तोड़ते हुये कोविड वैक्सीन के दोनों डोज़ लेकर ना सिर्फ स्वयं को कोरोना संक्रमण से सुरक्षित कर लिया है बल्कि दूसरों के लिए मिसाल बने हैं। यदि टीकाकरण में आए गति की बात करें तो केवल एक दिन (17 जुलाई ) में जिले के कुल 32 टीका केन्द्रों में हुये टीकाकरण का आंकड़ा 3,503 है, जिसमें  18 से 45 वर्ष उम्र के लोगों की संख्या  2197 , 45 से  60 के बीच 857 लोग और 60 वर्ष से ऊपर के 438 लोगों ने अपना टीकाकरण करवाया है।
संक्रमण के नए  वैरिएंट  से बचने के लिए भी कराये टीकाकरण :
डॉ. सिन्हा ने बताया कोरोना टीकाकरण ना सिर्फ मौजूदा स्थित को नियंत्रित  करने के लिए कारगर है बल्कि नये वैरिएंट डेल्टा प्लस  से बचाव के लिए भी फिलहाल  बेहतर विकल्प है।इस तथ्य की सच्चाई को  विश्व स्वास्थ्य संगठन भी (डब्लूएचओ) स्वीकार करता है कि  संक्रमण से बचने के लिए कोरोना प्रोटोकॉल का पालन और वैक्सीन ही सबसे कारगर हथियार है। इसलिए कोरोना टीका करण अभियान को गंभीरता से लें और जल्दी से जल्दी अपने को दोनों डोज़ लेकर टीकाकृत करें। ताकि, सूबे में तीसरी लहर  के आने की संभावना को देखते हुये उससे पहले ही समुदाय को संक्रमण ग्रस्त होने से सुरक्षित कर लिया जाये।
सुरक्षा मानकों की जरूरत तब भी थी , अब भी है :
सिविल सर्जन डॉ. ललितेश्वर  प्रसाद झा ने लोगों को टीकाकरण के लिए आगे आने की बात कहते हुये कोविड सुरक्षा मानकों के प्रति लापरवाही नहीं बरतने की सलाह दी । उन्होंने  कहा , ये सही है कि  संक्रमण दर में कमी आ रही है । लेकिन अभी भी तीसरे वेव के आने की संभावना जारी है । इसका मतलब हम पूर्ण रूप से सुरक्षित नहीं हुये हैं । इसलिए ध्यान रखें , जब तक कोरोना संक्रमण  से पूर्ण सुरक्षा नहीं तब तक सुरक्षा मानकों  से कोई सम्झौता नहीं।सभी लोग मास्क पहनें , शारीरिक दूरी का पालन करें , व्यक्तिगत  साफ सफाई का ध्यान रखें,  पौष्टिक और उचित आहार द्वारा रोग प्रतिरोधक क्षमता  बनाए रखें और टीकाकरण करवा कर जिला को कोरोना मुक्त बनाने  में सहयोग करें।

ads

Related Articles