जिले में आरटीपीसीआर व ट्रुनेट जांच के नए लक्ष्य निर्धारित

जिले में आरटीपीसीआर व ट्रुनेट जांच के नए लक्ष्य निर्धारित

- कार्यपालक निदेशक, राज्य स्वास्थ्य समीति ने पत्र जारी कर दिए निर्देश 
- जिले को रोजाना 1800 आरटीपीसीआर व 90 ट्रुनेट जांच का मिला लक्ष्य

आरा | जिला सहित पूरे राज्य में कोविड संक्रमण के मामलों में लगातार वृद्धि दर्ज की जा रही है. इसे संज्ञान में लेते हुए स्वास्थ्य विभाग ने आरटीपीसीआर व ट्रुनेट जांच बढ़ाने का निर्देश दिया है. नए निर्धारित लक्ष्य के अनुसार जिला को रोजाना 1800 आरटीपीसीआर व 90 ट्रुनेट जांच करने को कहा गया है. इस संबंध में विभाग के कार्यपालक निदेशक संजय कुमार सिंह ने डीएम व सिविल सर्जन को पत्र जारी किया है. विभागीय निर्देश के अनुसार कोरोना मामलों में वृद्धि को देखते हुये अधिक से अधिक लोगों का सैंपल जांच करने का निर्णय लिया है. जिला में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए तमाम जरुरी कदम उठाये जा रहे हैं. कई जगहों पर सघन मास्क चेकिंग अभियान जिला प्रशासन द्वारा चलाया जा रहा है और लोगों से कोविड सुरक्षा मानकों का पालन करने की अपील की जा रही है.  

रोजाना जांच की लक्ष्य प्राप्ति के हैं निर्देश: 
विभागीय निर्देश के बाद संक्रमण के बढ़ती संख्या व विभाग से मिले निर्देशों के बाद सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को रोजाना लक्ष्य की प्राप्ति के लिये कहा गया है. जिला में कई जगह पर जांच के साथ सघन टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है जिसके तहत 15 से 18 वर्षीय किशोरों का टीकाकरण एवं 60 वर्ष से ऊपर के लोगों को प्रीकॉशनरी डोज देने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। साथ ही अग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ता एवं स्वास्थ्यकर्मियों को भी प्रीकॉशनरी डोज लगाया जा रहा है. 

जिला को मिला 500 मेडिकल किट :
विभागीय निर्देश के अनुसार रैपिड एंटिजन किट से जांच के बाद संक्रमित लोगों के बीच दवा किट मुहैया कराने का निर्देश दिया है. इसी क्रम में भोजपुर जिला को 500 मेडिकल किट का आवंटन किया गया है. वहीं आरटीपीसीआर व ट्रुनेट जांच के बाद पॉजिटिव मिलने पर संबंधित मरीज को इंडिया पोस्ट से बीएमएसआइसिल की ओर से दवा किट देने को कहा गया है. इससे मरीजों को ससमय उपचार शुरू हो सके. विदित हो कि कोरोना का तीसरे लहर के मद्देनजर विभाग की ओर से यह पहल की गयी है. जांच के बाद मरीजों को होम आइसोलेशन में भेजा जा रहा है. घर पर हीं संक्रमितों को दवा मिलने से सुविधा बढ़ गयी है.

किट में दी जा रही दवा व मास्क :
स्वास्थ्य विभाग की ओर से दिये गये किट में 10 एमजी एजीथ्रोमाइसिन गोली 10 पीस, विटामिन सी 10 पीस, मल्टीविटामिन 10 पीस, जिंक टेबलेट 10 पीस, 500 ग्राम परासीटामोल 10 पीस देने को कहा गया है. कोरोना मरीजों की संख्या में वृद्धि होने के बाद विभाग की ओर से एहतियात बरती जा रही है.