आज से शहरी क्षेत्र में भी टीका एक्सप्रेस के माध्यम से चलाया जाएगा कोविड टीकाकरण अभियान

आज से शहरी क्षेत्र में भी टीका एक्सप्रेस के माध्यम से चलाया जाएगा कोविड टीकाकरण अभियान

- स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव ने दिये डीएम व सीएस को निर्देश
- शहरी क्षेत्रों के वार्डों में रवाना किया जाएगा टीका एक्सप्रेस

आरा(बोलता भोजपुर)जिले के शहरी क्षेत्र में रहने वाले 45 व उससे अधिक उम्र के लोगों के लिए खुशखबरी है। तीन जून से शहरी क्षेत्रों में भी टीका एक्सप्रेस को चलाया जाएगा। जिसके जरिये अब कोविड-19 टीकाकरण उनके घर के समीप टीका एक्सप्रेस के द्वारा किया जायेगा। इस संबंध में स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत तथा नगर विकास एवं आवास विभाग के प्रधान सचिव आनंद किशोर ने संयुक्त रूप से जिलाधिकारी, नगर आयुक्त व कार्यपालक पदाधिकारी तथा सिविल सर्जन को पत्र जारी किया है। पत्र में प्रत्येक टीका एक्सप्रेस से प्रतिदिन 200 लाभार्थियों के टीकाकरण के लक्ष्य को पूरा करने के लिए आवश्यक निर्देश दिया गया है।

वार्ड में ही बनाये जाएंगे सेशन साइट :
जारी पत्र के अनुसार कोविड-19 टीकाकरण का आचच्छादन 45 वर्ष से अधिक आयुवर्ग में अपेक्षाकृत कम है जिसे बढ़ाने की आवश्यकता है ताकि टीकाकरण के शतप्रतिशत लक्ष्य को प्राप्त किया जा सके। इसके लिए शहरी क्षेत्रों में माइक्रोप्लान बनाकर टीका एक्सप्रेस द्वारा लाभार्थियों को उनके मुहल्ला या वार्ड के समीप ही टीकाकरण की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए टीकाकरण सत्र का आयोजन संबंधित मुहल्ला या वार्ड के ही किसी सामुदायिक भवन अथवा विद्यालय इत्यादि में किया जाने का निर्णय लिया गया है। शहरी क्षेत्रों में कोविड टीकाकरण में इजाफा लाने के लिए माइक्रोप्लान तथा रूट चार्ट, सत्र स्थल के चयन, टीकाकरण दल, टीका एक्सप्रेस, मोबिलाइजेशन तथा लॉजिस्टिक अरेंजमेंट को लेकर आवश्यक निर्देश दिये गये हैं।

ऑटो-बस व उद्योग एसोसिएशन से लेनी है मदद :
निर्देश में कहा गया है अंचल, शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र या प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के के अंतर्गत आने वाले प्रत्येक मुहल्ला या वार्ड का माइक्रोप्लान बनाकर 45 वर्ष से अधिक आयुवर्ग के लाभार्थियों का कोविड टीकाकरण सुनिश्चित करना है। इसके लिए शहरी क्षेत्र में बने अपार्टमेंट, घर, शहरी स्लम बस्ती, सब्जी मंडी, बाजार समिति, ऑटो रिक्शा तथा बस ऑनर एसोसिएशन, स्ट्रीट वेंडर, महिला आरोग्य समिति, राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के तहत स्वयं सहायता समूह तथा उद्योग एसोसिएशन आदि को सम्मिलत करने के लिए कहा गया है। निर्देश में जिलाधिकारी के नेतृत्व में जिला स्तर पर स्वास्थ्य, शिक्षा, आइसीडीएस, नगर निगम अथवा नगर परिषद, नगर निकाय के चयनित जनप्रतिनिधि एवं जीविका के पदाधिकारी आदि को सम्मिलत करते हुए समन्वय बैठक के आयोजन के लिए कहा गया है।

डीटीएफ तथा निगम के सहयोग से चयनित होंगे सत्र स्थल :
सत्र स्थल का चयन डिस्ट्रिक टास्क फोर्स द्वारा नगर निगम या नगर परिषद के सहयोग से संबंधित मुहल्ला या वार्ड के ही किसी सामुदायिक भवन इत्यादि में करते हुए टीकाकरण सत्र का आयोजन किया जायेगा। वहीं, टीकाकरण दल के गठन के लिए वेरिफायर तथा डॉटा ऑपरेटर  की व्यवस्था राज्य स्तर से की जा रही है। वैक्सीनेटर की व्यवस्था संबंधित चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल व सिविल सर्जन द्वारा किया जाना है। टीकाकरण के लिए मोबिलाइजेशन के काम में आइसीडीएस सहित सामुदायिक कार्यकर्ता, धार्मिक संस्थान तथा अन्य सहयोगी संस्थाओं की मदद लिये जाने के लिए कहा गया है। नगर निगम या नगर परिषद द्वारा टीकाकरण की जानकारी के लिए माइकिंग कराये जाने के लिए कहा गया है। जिला स्वास्थ्य समिति द्वारा टीकाकरण स्थल पर मास्क, सैनिटाइजर, गल्ब्स, पंजी व अन्य आवश्यक सामानों की व्यवस्था की जायेगी।